Top 7 Seo Ranking Factors 2021 in Hindi

Top 7 Seo Ranking Factors 2021 in Hindi

स्वागत हैं दोस्तों आपका हमारे आज के इस blog में दोस्तों आज हम बात करने वाले TOP 7 Seo Ranking Factors 2021 in Hindi की दोस्तों अगर आप भी एक new blogger हैं और ranking factors के बारे में पढ़ना चाहते हैं तो हमारा यह ब्लॉग main आपके लिए ही हैं। तो दोस्तों आपका और वक्त जाया ना करते हुए सीधा जानते हैं की वो Top 7 Seo ranking factors कौन से हैं।

1 – Secured Website

अगर दोस्तों आपकी website आज की date में secure नहीं मतलब की आपकी website पर SSL certificate (https) नहीं हैं तो बहुत ही कम chances होंगे की आपकी website google पर rank करेगी अगर आपको मेरी बात पर थोड़ा doubt हैं तो आप चाहे तो खुद google पर जाकर देख सकते हैं की जो websites google पर rank कर रही हैं क्या वो secure हैं या नहीं।

तो अपनी website को secure करने के लिए एक ऐसे hosting provider से hosting purchase करनी होगी जो आपको ssl certicate भी provide करे अगर आपने होस्टिंग purchase कर ली हैं और आपको hosting plan में ssl नहीं मिला हैं तो आप SSl certicate क़ो दूसरी sites में जाकर buy भी कर सकते है।

2- Internal Linking

अगर दोस्तों आप अपनी posts पर ठीक तरह से internal linking नहीं करते हैं तो बहुत मुश्किल chances होंगे की google आपकी post क़ो google में rank करेगा।

जिन लोगो क़ो internal linking के बारे में नहीं पता उनको में बताना चाहता हूँ की आखिर internal linking क्या होती हैं तो दोस्तों किसी अपनी ek post क़ो किसी दूसरी post के साथ link करना ही internal linking कहलाता हैं।

इसमें दोस्तों में आपको एक चीज और बताना चाहता हूँ की जब भी आप अपनी किसी post पर internal linking कर रहे हो तो आप केवल उसी post क़ो internal link करे जो उससे relevant हो जैसे की मान लीजिये की आपने “sitemap क्या है ” इस विषय पर एक post लिख ली हैं और आप on page करते वक्त इस post अपनी किसी दूसरी post के साथ internal link करना चाहते हैं।

तो आप केवल इसे किसी relevant post के साथ internal link करना ना की irrelevant post के साथ जैसे – affiliate marketing, tech इत्यादि ऐसी लिखी हुयी पोस्टो के साथ मत करना, में आपको ऐसा इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि अगर आप relevenat post क़ो internal link
करोगे तो इससे आपकी website की ranking तो सुधरेगी ही और साथ ही साथ user experience भी सुधरेगा।

3- mobile friendly

अगर आपकी website आज की date में mobile friendly नहीं हैं तो google आपकी website क़ो rank देना तो दूर की बात आपकी website क़ो index तक नहीं करेगा। क्योंकि ये बात आपको भी बता हैं की ज्यादातर user जो interent use करते हैं वो desktop से ज्यादा mobile में use करते हैं तो आप खुद ही सोचो अगर आपकी website mobile friendly ही नहीं होगी तो गूगल आपको रैंकिंग कैसे देगा हैना google अपने users का user experience खराब क्यों करेगा।

तो अगर आपकी website mobile friendly नहीं हैं तो उसे सबसे पहले mobile friendly बनाइये वो कैसे ?

  • simple और light theme उसे करके।
  • light font weight उसे करके।
  • अपनी website पर चल रहे ads क़ो content पर overlap रोख कर के।
  • clickable elements में space देकर के, इत्यादि।

4 – Quality Backlinks

– अगर आप अपनी website पर high authority quality backlinks बनाएंगे तो आपकी website की ranking पर जरूर सुधार आएगा। क्योंकि google ये देखता है की जिस website क़ो high authority website से backlink मिल रहे हैं तो मतलब इसके content में जरूर कुछ ना कुछ बात जरूर होगी इसलिए इस वेबसाइट क़ो हाई authority websites backlink दे रही है।

तो अगर आप google पर अपनी website क़ो rank करना चाहते हैं तो अपनी website के लिए quality backlinks बनाते रहिये चाहे वो आप guest post कर के बनाइये, चाहे profile create करिये या फिर चाहे wiki submission के जरिये बनाइये।

5 – Website Speed

SEO ranking factor में website speed एक main point हैं, अगर आपकी website speed बहुत slow हैं तो google आपकी website क़ो ranking नहीं देगा। क्योंकि यार आप खुद देखो आप जब भी किसी website पर visit करते हो तो अगर उस website की speed slow होती हैं तो क्या आप उसके open होने का इंतज़ार करते हो ? नहीं ना वहा से आप back करके चले जाते होंगे हैना।

तो दोस्तों इसमें फिर से वही बात आ गयी की google अपने सभी users क़ो एक अच्छा user experience देना चाहता हैं अगर किसी बन्दे की website बहुत slow हैं तो google उसे top पर rank करेगा ही नहीं क्योंकि वो person वहा से सीधा back कर के वापस आजायेगा
तो इसलिए गूगल आपको सबसे नीचे ही रखेगा ताकि कोई भी person ये चीज ना कर पाए की वो हर site से back होकर वापस आ रहा हैं।

अब बात करते है की यार website speed किस तरह fast रखी जाये तो इसके लिए आप बहुत से ऐसे wordpress plugins हैं जिसके जरिये आप अपनी website क़ो fast बना सकते हैं जैसे – w3 total cache , Wp rocket , lite speed cached ऐसे बहुत सारे plugins हैं जिनको आप use कर सकते हैं।

6 – Meta title and Description

अगर आप अपनी post का ठीक तरह से meta title और meta description नहीं लिखते हैं तो आपकी website google पर 1 no पे कभी rank नहीं हो पायेगी।

अब आप सोच रहे होंगे की मैं ऐसा क्यों कह रहा हूँ तो यार देखो जब भी आप google पर kuch search करते हो तो search करने के बाद जो आपको google पर जो results दिखते हैं तो सबसे पहले आप उनके title और description क़ो तो check करते हैना की हां जो query मैंने google पर search करी है इसकी post का tiitle same ही हैना मेरी query हैं और उसके बाद आप description पढ़ते होंगे की हां क्या बताने वाला हैं ये अपनी पोस्ट मैं तब इसके बाद आप उस साइट पर जाते होंगे हैना।

तो यार जिस keyword पर आप post लिख रहे हो वो keyword exact आपके meta title में आना चाहिए और साथ ही साथ आपके meta description में भी तभी google आपकी post क़ो ranking देगा। और इसमें देखो आप खुद ही सोचो अपने what is seo name के keyword पर post लिखी और आपका जो title हैं वो seo tips हैं तो क्या वो what is seo पर rank हो जायेगा ? नहीं ना और अगर by chance rank हो भी जाता हैं तो क्या कोई person उस पर click करेगा नहीं क्योंकि उसकी query what is seo हैं पर आपका जो title हैं वो seo tips हैं।

तो इसलिए अपने meta title और description पर अपने keyword क़ो जरूर लिखो।

7- Short Permalinks

जब भी आप अपने किसी keyword पर post लिख रहे हो तो उस post का जो आप permalink बनाये वो हमेशा short बनाये यानि 72 charcaters से उप्पर का ना बनाये मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि जो short permalinks होते हैं यानि 72 characters से नीचे वो user friendly होते हैं और मैंने आपको उप्पर भी बताया की google अपने user क़ो अच्छा experience देना चाहता हैं और जितना user friendly आप work करोगे उतनी अच्छी आपकी ranking improve होगी।

और हां इसमें एक बात और याद रखे की आप जो permalink बनाये उसमे आपका focus keyword जरूर आना चाहिए।

आशा करता हूँ दोस्तों आपको हमारा यह article पसंद आया होगा अगर आपको पासना आया हैं तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *.

*
*
You may use these <abbr title="HyperText Markup Language">HTML</abbr> tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>